आचार संहिता क्या है ? | Code Of Conduct | आचार संहिता के नियम | हिन्दी

आचार संहिता क्या है ? | Code Of Conduct | आचार संहिता के नियम | हिन्दी 

 

आचार संहिता के बारे में आपनें आये दिन सुना ही होगा। और जबसे लोकसभा चुनावों की घोषणा हुई है। तबसे तो अाचार संहिता चर्चा में बनी हुई है, भारत में तो यदि कोई कानून किसी चीज़ पर प्रतिबन्ध लगाता है तो उस कानून का हव्वा ही बन जाता है। भले ही वह सीधा सदा सा कानून क्यों न हो। कुछ ऐसा ही है आचार संहिता इसे दूसरे शब्दों में ‘आदर्श आचार संहिता’ भी कहा जाता है। 

                                                                          हम भारतीयों में किसी भी कानून को जानने की हमेशा ललक रही है। और सबसे ज्यादा कानून तोड़ने वालों में भी हम ही आते है। तो चलिए आज हम जानेंगे की आदर्श आचार संहिता आखिर  क्या है ? इसके नियम क्या है ? और इसे कब प्रवर्तन में लाया जाता है ? और इसकी अवधि कितनी होती है ?

                     (1).क्या है ? आदर्श आचार संहिता 

 

चुनावों की तिथि की घोषणा की तिथि से अंतिम चरण के चुनावों की समाप्ति तक, चुनाव आयोग द्वारा बनाये गए (चुनावों को शांतिपूर्ण ढंग से निपटानें हेतु) कुछ नियमों के समूह हो, आचार संहिता या आदर्श आचार संहिता की संज्ञा  प्राप्त है। इन नियमों के अतिक्रमण पर चुनाव आयोग ने विभिन्न सज़ाओं का प्रावधान भी किया है। 

                             आदर्श आचार संहिता के नियम 

लाउडस्पीकर के सम्बन्ध में आदर्श आचार संहिता के नियम

जैसे ही आदर्श आचार संहिता प्रवर्तन में आ जाती है, उस समय से किसी भी स्थान पर लगे लाउडस्पीकर चाहे वे वाहनों में हों या किसी सभा में वे उन्ही निर्देशों पर बजेंगे तथा बंद होंगे जो उनके लिए बनये गए होंगे। 

ग्रामीण क्षेत्र में  

ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह 6 बजे से शुरू होकर लाउडस्पीकर रात 11 बजे तक प्रयोग में लाये जा सकेंगे। 

शहरी क्षेत्रों में 

शहरी क्षेत्रों में  6 बजे से शुरू होकर लाउडस्पीकर रात 10 बजे  बजाए जा सकेंगे। 

(A). सूबे के मुख्यमंत्रियों हेतु आदर्श आचार संहिता के नियम 

(1). सूबे के मुख्यमंत्री, राज्य का कोई शासकीय दौरा जब तक की आदर्श आचार संहिता प्रवर्तन में है,नहीं कर सकेगे। 

(2). सूबे के मुख्यमंत्री यदि आदर्श आचार संहिता प्रवर्तन में है, तो किसी भी योजना या परियोजना की शुरुआत नहीं कर सकेंगे।     

(3). सूबे के मुख्यमंत्री सूबे में किसी भी प्रकार का अनुदान या स्वीकृति विवेकाधीन निधि से, आदर्श आचार संहिता के चलते नहीं कर सकेंगे। 

Islamophobia | What Is Islamophobia | History Of Islamophobia | इस्लाम से डर क्यों ? | हिंदी | Aditya Philosophical

(B). सत्ता में मौजूद पार्टी के हेतु आदर्श आचार संहिता के नियम

(1). सरकारी धन से कोई भी ऐसा आयोजन जो किसी राजनितिक पार्टी को कोई साधारण या विशेष लाभ पहुँचता हो, निर्वाचन आयोग द्वारा निषेधित है। 

(2).सत्ता में मौजूद पार्टी सरकारी हेलिकॉप्टर्स और गाड़ियों का प्रयोग अपनी पार्टी के प्रचार या किसी हित के लिए न करे। 

(3). सत्ता में मौजूद पार्टी हैलीपैड पर अपना एकाधिकार न दिखाए जिससे कि अन्य दलों को परेशानी का सामना करना पड़े। 

(4). सरकारी बंगलों या विश्राम घरो का प्रयोग जब तक कि आदर्श आचार संहिता प्रवर्तन में है, का प्रयोग प्रचार के लिए नहीं होगा। 

(5). सरकारी धन का प्रयोग सत्ता में मौजूद पार्टी अपने हित में प्रचार के लिए नहीं कर सकेगी। 

(6). सरकारी कर्मचारिओं के स्थानांतरण बिना निर्वाचन आयोग के पूर्वानुमोदन के नहीं किये जा सकेंगे।

National Emergency | राष्ट्रीय आपातकाल 356 | आपात काल क्या है ? | हिंदी | Aditya Philosophical

(C). सरकारी अधिकारीयों हेतु आदर्श आचार संहिता के नियम 

(1). जिन अधिकारीयों से सेवाएं ली जा रहीं है वे उसे छोड़कर किसी सभा या किसी राजनीतिक पार्टी द्वारा आयोजित किसी  कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सकेगा। 

(2). किसी  राजनीतिक पा

र्टी को उनके कार्यक्रमों के लिए स्थान देते समय किसी भी प्रकार का विभेद नहीं करेंगे। 

(3). चुनाव के लिए अपनी पार्टी के हित के लिए जाने वाले मंत्रियों को न अपनी सेवाएं देंगे न ही उनके साथ जायेंगे। 

(D). राजनीतिक पार्टियों हेतु आदर्श आचार संहिता के नियम 

(1). राजनीतिक दल कोई भी ऐसी गतिविधि में संलिप्त न पाए जाएं जिससे धर्मो के बीच विवाद पैदा हो या नफरत फैले। 

(2). धार्मिक स्थलों या स्थानों को किसी दल के प्रचार के लिए इस्तेमाल नहीं किया जायेगा। 

(3). जनता का वोट पाने के लिए उन्हें रिश्वत या लालच नहीं दिया जा सकेगा। 

 Defamation Meaning | Defamation Meaning In Hindi | Defamation Law | धारा 499 क्या है? | मानहानि | हिंदी | Aditya Philosophical  

 

(E).  राजनीतिक रैलियों से सम्बंधित आदर्श आचार संहिता के नियम

(1). राजनीतिक पार्टियां अपनी चुनावी रैलियों की शुरुआत तथा समाप्ति के मार्ग तथा समय का ब्यौरा पुलिस को दें।   

(2).  यदि दो राजनीतिक रैलियां एक ही मार्ग पर एक ही दिन हो रहीं हों तो पुलिस को समय के सम्बन्ध में पहले से सूचित करना बेहद आवश्यक है। 

(3). प्रतिवंधित चीज़ो का इस्तेमाल न करें।  

(F). वोटिंग के दिन से सम्वन्धित आदर्श आचार संहिता के नियम 

(1). जो चुनावी कार्यकर्त्ता अधिकृत हैं उनके पास अपने नाम व पद का पहचान पत्र होना चाहिए।  

(2). वोटिंग के दिन या उससे लगभग 24 घंटे पहले तक वहाँ जहाँ मतदान होना है, किसी को शराब न बांटी न बांटी गयी हो।  

(3). वोटिंग के दिन वोटिंग कैम्पों पर भीड़ की स्थिति पैदा न होने दें , तथा यदि आप उस दिन वाहन चलाते हैं तो उसका परमिट अवश्य रखें।  

पाकिस्तान ने जिनेवा कन्वेंशन का पालन नहीं किया ? |जिनेवा कन्वेंशन 1949 | Geneva Convention | Third Geneva Convention | हिंदी | Aditya Philosophical

  आदर्श आचार संहिता का अतिक्रमण करने पर उम्मीदवारों के लिए सजा

भिन्न भिन्न चीज़ो के लिए भिन्न भिन्न सज़ाएं हैं। उम्मीदवारों पर एफआईआर दर्ज की जा सकती है , पहली गलती पर भी किया  तथा यदि फिर भी गलती की जाती है तो उसे चुनाव से प्रतिवंधित भी किया  जा सकता है। 

आचार संहिता क्या है ? | Code Of Conduct | आचार संहिता के नियम | हिन्दी 

 

 

[ENGLISH] Section 497 IPC Bailable |Is Adultery A Crime | Adultery Laws | Adultery In Marriage | Aditya Philosophical 

 

 

 यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो तो LIKE ,SHARE ,SUBSCRIBE करे। 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *